Fools should not advise Short Story in Hindi: मूर्खों को सलाह नहीं देनी चाहिए कहानी

Fools should not advise Short Story in Hindi: नमस्कार दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम आपके लिए मूर्खों को सलाह नहीं देनी चाहिए कहानी लेकर आये हैं जो आपके बच्चो को नैतिक शिक्षा देगी तो अगर आपको यह कहानी पसंद आये तो इसको सोसल मिडिया पर शेयर करना बिलकुल न भूलें तो आइये Fools should not advise Short Story in Hindi कहानी कि शुरुवात करते हैं

Fools should not advise Short Story in Hindi
Fools should not advise Short Story in Hindi

Fools should not advise Short Story in Hindi: मूर्खों को सलाह नहीं देनी चाहिए कहानी

बहुत समय पहले की बात है। नर्मदा नदी के तट पर एक बहत ही विशाल पेड़ था। इस पर बड़ी संख्या में कई प्रकार के पक्षी रहते थे। वो पेड़ इतना घना था कि भारी बारिश में भी इसपर कोई प्रभाव नहीं होता था।

एक दिन बहत भारी वर्षा हुई। बारिश घंटों तक रुकने का नाम नहीं ले रही थी बारिश के साथ तेज हवाएं भी चलीं। तभी बंदरों का एक झुंड वहां पहुंच गया सभी बंदर भीगे हुए थे और ठंडी हवा से कांप रहे थे।

घोंसले में बैठे पक्षियों ने बंदरों की यह हालत देखी। तभी उनमें से एक पक्षी नीचे आया और बंदर से बोला, “तुम्हें हर बार बारिश के मौसम में इस तरह परेशान क्यों होना पड़ता है? हमें देखो, हमने घास-फूस लाकर ही अपना घोंसला बनाया है और आज हम इस बारिश में भी सुरक्षित हैं।

लेकिन भगवान ने तुम्हें दो हाथ और दो पैर दिए हैं, जिनका उपयोग तुम इधर-उधर कूदने और खेलने के लिए करते हो। आप अपने लिए एक घर क्यों नहीं बनाते, जो बारिश और धूप में आपको सुरक्षा देगा? “

यह सुनकर बंदर क्रोधित हो गया। उसे लगा कि यह पक्षी हमारे बारे में इस प्रकार कैसे बातें कर रहा है। बंदारो को लगा कि ये पक्षी हमें अपने में शिक्षा दे रहे हैं। “बारिश रुकने दो, फिर हम उन्हें सबक सिखाएंगे।” बंदरों के सम्राट प्रमुख ने कहा।

जैसे ही बारिश रुकी, सभी बंदर पेड़ पर चढ़ गए और पक्षियों के घोसलों को नष्ट कर दिया। घोसलों में रखे अण्डे भी तोड़ दिये। परिणाम यह हुआ कि पक्षियों ने इधर-उधर उड़कर अपनी जान बचायी।

Moral Of The Story: कहानी से शिक्षा

Fools should not advise Short Story in Hindi, मूर्खों को सलाह नहीं देनी चाहिए कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है कि सलाह हमेशा बुद्धिमान को ही देनी चाहिए और वह तभी दी जानी चाहिए जब वह मांगी जाए। मूर्खों को कभी सलाह नहीं देनी चाहिए, नहीं तो परिणाम उल्टा हो सकता है

You May Also Like✨❤️👇

10 Lines Short Stories With Moral in Hindi

10 Lines Short Story For Children In Hindi

दर्जी और हाथी की कहानी

बंदर और टोपीवाले की कहानी

बंदर और मगरमच्छ की कहानी

5/5 - (11 votes)

Leave a Comment