Short Poem on Republic Day in Hindi | गणतंत्र दिवस पर 10 लाइन कविता

कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10 के लिए गणतंत्र दिवस पर Short Poem on Republic Day in Hindi | गणतंत्र दिवस पर 10 लाइन कविता, ये कविताएँ लोकप्रिय कवियों द्वारा लिखी गई हैं। भारत में, 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाने लगा, जिसकी शुरुआत 1950 में हुई थी। जब भारत का संविधान लागू किया गया था।

26 जनवरी एक राष्ट्रीय अवकाश है और पूरे भारत में इसे राष्ट्रीय त्योहार के रूप में मनाया जाता है। इस दिन चाहे स्कूल हो या कॉलेज हर जगह गणतंत्र दिवस के मौके पर टेलीविजन पर कई कार्यक्रम होते हैं।

Top 10 Short Poem on Republic Day in Hindi

short poem on republic day in hindi
short poem on republic day in hindi

1 – हम आजादी के मतवाले: गणतंत्र दिवस पर 10 लाइन कविता

हम आजादी के मतवाले
झूमे सीना ताने
हर साल मनाते उत्सव
गणतंत्र का महजब़ जाने
संविधान की भाषा बोले
रग-रग में कर्तव्य घोले
गुलामी की बेड़ियों को
जब रावी-तट पर तोड़ा था
उसी अवसर पर तो
हमनें संविधान से नाता जोड़ा था
हर साल हम उसी अवसर पर
गणतंत्र उत्सव मनाते हैं
पूरा भारत झूमता रहता है
और हम नाचते-गाते हैं
राससीना की पहाड़ी से
शेर-ए-भारत बिगुल बजाता है
अपने शहीदों को करके याद
पुनः शक्ति पा जाता है।

2 – तिरंगा हमारी शान है: Short Poem on Republic Day in Hindi

गणतंत्र हमारा अभिमान है
तिरंगा हमारी शान है

पहले अपना देश बचाया
अंग्रेजों को वापस भगाया
तब जाकर अपना संविधान बनाया
हमारा संविधान हमारी आन है
तिरंगा हमारी शान है

सीने पर गोली खाते हैं
अपनी जान गंवाते हैं
इस तरह शहीद अपना देश बचाते हैं
देश के आगे छोटी हमारी जान है
तिरंगा हमारी शान है

यहां पावन गंगा बहती है
सोने की चिड़िया रहती है
लेकिन आजादी से जीने की बात कहती है
आजादी से जीने का स्वाभिमान है
तिरंगा हमारी शान है

गणतंत्र हमारा अभिमान है
तिरंगा हमारी शान है.

3 – गणतंत्र हमारा महान है: 26 January short Poem in Hindi

small poem on republic day in Hindi: गणतंत्र दिवस की कविताओं के साथ अपने आप को और पूरी सभा को राष्ट्रवाद के जादू में बांधें। विशेष रूप से गणतंत्र दिवस के लिए हमारे द्वारा उपलब्ध कराए गए कविताओं के विस्तृत संग्रह के साथ उत्सव को मंत्रमुग्ध करें।

कविताएँ मेरे शब्दों को चिन्हित करती हैं, एक कविता जो प्रभाव और छाप छोड़ती है वह देखने लायक नहीं होती। और मुझे यकीन है कि सामग्री गणतंत्र दिवस समारोह को और अधिक उत्साहपूर्ण बनाएगी। राष्ट्रीय महत्व का यह दिन हमारी मानसिकता में देशभक्ति और धार्मिकता का विचार लाता है।

यह गोमेद उत्सव नहीं है जिसके बारे में जानने के लिए 26 जनवरी है, बल्कि राष्ट्रीयता और देश के भविष्य का सम्मान करने और उस पर विचार करने के लिए है। हमारे कुछ प्रतिष्ठित और विपुल कवियों द्वारा अब तक हिंदी में भारत के गणतंत्र दिवस पर प्रस्तुत सर्वश्रेष्ठ छंद देखें।

स्कूल में छात्रों को बधाई देने और सिखाने के लिए गणतंत्र दिवस की कविताएँ चुनें। आप नीचे दिए गए अनुसार कविता लिंक के साथ काव्य लय भी डाउनलोड कर सकते हैं। गणतंत्र दिवस पर हिंदी में कविताओं के साथ एक बेहतरीन अनुभव और प्रेरणा भी देखें।

देखो 26 जनवरी है आयी,
गणतंत्र की सौगात है लायी।
अधिकार दिये हैं इसने अनमोल,
जीवन में बढ़ सके बिन अवरोध

हर साल 26 जनवरी को होता है
वार्षिक आयोजन,
लाला किले पर होता है
जब प्रधानमंत्री का भाषन,
नयी उम्मीद और नये पैगाम से,
करते है देश का अभिभादन,
अमर जवान ज्योति,
इंडिया गेट पर अर्पित करते श्रद्धा सुमन,
2 मिनट के मौन धारण से होता
शहीदों को शत-शत नमन।

सौगातो की सौगात है,
गणतंत्र हमारा महान है,
आकार में विशाल है,
हर सवाल का जवाब है,
संविधान इसका संचालक है,
हम सब का वो पालक है,
लोकतंत्र जिसकी पहचान है,
हम सबकी ये शान है,
गणतंत्र हमारा महान है,
गणतंत्र हमारा महान है।

4 – मैं भारतमाता का पुत्र प्रतापी
Republic Day 10 Lines Poem in Hindi For School Students

मैं भारतमाता का पुत्र प्रतापी
सीमा की रक्षा करता हूं

जो आके टकराता है
अहम चूर भी करता हूं

दुश्मन की कोई भी
दाल न गलती
लड़कर दूर भगाता हूं
अपने भारत के वीर गीत को
हर मौके पर गाता हूं

आतंकवादी अवसरवादी
आने से टकराते हैं
आ गए मेरी भूमि में
तहस-नहस हो जाते हैं

अपने देश की माटी का
माथे पर तिलक लगाता हूं।

5 – हिन्दुस्तान हमारा है
26 January 2024 Kavita Republic Day Short Poem in Hindi

वतन हमारा ऐसे न छोर पाए कोई

वतन हमारा ऐसे न छोर पाए कोई

रिश्ता हमारा ऐसा ना तोड़ पाए कोई

दिल है हमारे एक है,

एक है हमारी जान

दिल है हमारे एक है,

एक है हमारी जान

हिन्दुस्तान हमारा है

हम है इसकी शान

6 – हम आजादी के मतवाले
Republic Day Short Poem in Hindi

हम आजादी के मतवाले
झूमे सीना ताने

हर साल मनाते उत्सव
गणतंत्र का महजब़ जाने
संविधान की भाषा बोले
रग-रग में कर्तव्य घोले।

गुलामी की बेड़ियों को
जब रावी-तट पर तोड़ा था
उसी अवसर पर तो
हमनें संविधान से नाता जोड़ा था।

हर साल हम उसी अवसर पर
गणतंत्र उत्सव मनाते हैं।

पूरा भारत झूमता रहता है
और हम नाचते-गाते हैं
राससीना की पहाड़ी से
शेर-ए-भारत बिगुल बजाता है।

अपने शहीदों को करके याद
पुनः शक्ति पा जाता है।

You May Also Like✨❤️👇

Best 10 Lines Short Stories With Moral in Hindi

Best Poem on Mahashivratri in Hindi

Top 5 Poems of Sohan Lal Dwivedi

Best Poems for Kids in Hindi

Kisko Naman Karu Main Bharat Poem

10 Lines on Republic Day in Hindi

7 – आज़ मेरें देश मे गणतंत्र है आया
Short Poem on Republic Day in Hindi

गणतंत्र दिवस भारत के सबसे महत्वपूर्ण राष्ट्रीय त्योहारों में से एक है। यह 26 जनवरी, 1950 को भारतीय संविधान के लागू होने के उपलक्ष्य में बहुत भव्यता और भव्यता के साथ मनाया जाता है। इसी दिन हमारी मातृभूमि को पहली बार पूर्ण संप्रभु, लोकतांत्रिक और गणतंत्र राज्य घोषित किया गया था।

विशाल परेड, देशभक्ति के गीत बजाना, सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करना और कविताएँ सुनाना जैसे समारोहों में सबसे आगे रहते हैं। गणतंत्र दिवस पर महान कवियों द्वारा कई कविताएँ लिखी गई हैं जो देशभक्ति और भाईचारे का प्रतीक हैं।

इन्हें इस विशेष दिन पर टेलीविजन पर आयोजित या प्रसारित कार्यक्रमों में सुनाया जाता है। यहां कुछ short poem on republic day in hindi, republic day short poem in hindi, 26 January short Poem in Hindi, गणतंत्र दिवस पर कविता, 10 Lines on Republic Day Poem in Hindi, Republic Day Poem 10 Lines in Hindi for Children and Students दी गई हैं जो इस विशाल देश में लोगों के बीच एकता, भाईचारे और परिचितता को बढ़ावा देती हैं।

आज़ मेरें देश मे गणतंत्र है आया

देश मे हर तरफ़ लोक़तंत्र है छाया

ना क़रना अब़ हमसें कोईं सवाल

स्वेच्छा क़िया है हमनें मतदान

अब न सुनेगे कोईं ब़हाना

लोकतंत्र हीं है शक्ति भलीभान्ति ज़ाना

अग़र क़ी अपनी मनमानीं

सुनेगे नही कोईं कहानीं

फ़िर से उठालेगे हथियार

मतदान है हमारा अधिक़ार

अग़र आना है अग़ली ब़ार

विक़ास क़रो मोदी इस बार

8 – भारत देश हमारा है
गणतंत्र दिवस पर कविता इन हिंदी

भारत देश हमारा है यह 

हमको जान से प्यारा है 

दुनिया में सबसे न्यारा यह 

सबकी आंखों का तारा है 

मोती हैं इसके कण- कण में 

बूँद- बूँद में सागर है 

प्रहरी बना हिमालय बैठा 

धरा सोने की गागर है 

भूमि ये अमर जवानों की है 

वीरों के बलिदानों की 

रत्नों के भंडार भरे हैं 

गाथा स्वर्णिम खानों की 

सत्य, अहिंसा, शांति बाँटता 

इसकी शान तिरंग़ा है 

गोद खेलती नटखट नदियाँ 

पावन यमुना- गंगा है 

चंदन की माटी से महके 

मातृभूमि को वंदन है 

कोटि-कोटि भारतवालों का 

सुंदर सा यह नंदन है

9 – 26 जनवरी को आता हमारा गणतंत्र दिवस
Short Poems on Republic Day 2024 in Hindi

26 जनवरी को आता हमारा गणतंत्र दिवस

जिसे मिलकर मनाते हैं हम सब हर वर्ष।

इस विशेष दिन भारत बना था प्रजातंत्र

इसके पहले तक लोग ना थे पूर्ण रूप से स्वतंत्र।

इसके लिए किये लोगो ने अनगिनत संघर्ष

गणतंत्र प्राप्ति से लोगों को मिला नया उत्कर्ष।

गणतंत्र द्वारा मिला लोगों को मतदान का अधिकार

जिससे बनी देशभर में जनता की सरकार।

इसलिए दोस्तों तुम गणतंत्र का महत्व समझो

चंद पैसो की खातिर अपना मतदान ना बेचो।

क्योंकि यदि ना रहेगा हमारा यह गणतंत्र

तो हमारा भारत देश फिर से हो जायेगा परतंत्र।

तो आओ हम सब मिलकर ले प्रतिज्ञा

मानेंगे संविधान की हर बात ना करेंगे इसकी अवज्ञा।

10 – नही सिर्फं जश्न मनाना
Republic Day 10 Lines Poem in Hindi

नही सिर्फं जश्न मनाना

नही सिर्फं झंडें लहराना

यें काफ़ी नही हैं वतन पर

यादो को नही भुलाना

ज़ो कुर्बांन हुए उनकें

लफ़्ज़ो को आगे ब़ढ़ाना

ख़ुदा के लिए नहीं ज़िन्दगी

वतन के लिये लुटाना

हम लाए हैं तूफान सें

क़श्ती निक़ाल के

इस देश को रख़ना

मेरे बच्चो सम्भाल कें

आज़ शहीदो ने हैं तुमको

अहलें वतन ललक़ारा

तोडो गुलामी की ज़जीरें

बरसाओं अगारा

हिन्दू-मुस्लिम-सिख़ हमारा

भाईं-भाई प्यारा

यह हैं आज़ादी का झ़ंडा

इसें सलाम हमारा.

5/5 - (9 votes)

Leave a Comment